Home राज्य उत्तर प्रदेश-उत्तराखण्ड यूपी पुलिस ने की बड़ी कार्रवाई, इतने तस्कर और कारोबारी को कर चुकी है गिरफ्तार

यूपी पुलिस ने की बड़ी कार्रवाई, इतने तस्कर और कारोबारी को कर चुकी है गिरफ्तार

2 second read
0
0
64

विजय त्रिपाठी, लखनऊ। नगर निकाय चुनाव के चलते उत्तर प्रदेश पुलिस ने पिछले एक माह का लेखा-जोखा मंगलवार को पुलिस महानिदेशक के सभागार में पेश किया। एडीजी कानून व्यवस्था आनंद कुमार ने मीडिया के सामने ब्यौरा पेश करते हुए पुलिस द्वारा की गई कार्रवाई के संबंध में पूरा विवरण बताया। एडीजी कानून-एवं व्यवस्था ने बताया कि राज्य निर्वाचन आयोग के आदेशानुसार फ्लाइंग स्क्वायड का भी गठन किया गया है। इसमें पूरे प्रदेश में 626 फ्लाइंग स्क्वायड गठित किये गए हैं। प्रत्येक दस्ते में मजिस्ट्रेट व एक पुलिस उपनिरीक्षक शामिल होगा। इनके पास एक वीडियो कैमरे के साथ वीडियो ग्राफर मौजूद रहेगा।

एडीजी ने जो कार्रवाई का ब्यौरा पेश किया गया उसके मुताबिक अवैध असलहों और असलहा तस्करों पर कार्रवाई सबसे अधिक कार्रवाई हुई। एडीजी ने बताया कि 11  अक्टूबर 2017 से हुई एक माह तक की कार्रवाई के तहत प्रदेश में अवैध हथियार बनाने वालों के विरुद्ध प्रदेश में 2244 मुकदमें पंजीकृत किये गए। 2275 असलहा तस्कर गिरफ्तार कर 2362 अवैध असलहे बरामद किये गए। कार्रवाई के तहत 38 अवैध असलहा फैक्ट्री का भंडाफोड़ कर 3873 कारतूस बरामद किये गए।

वहीं प्रदेश में अवैध शराब बनाने वालों के विरुद्ध कार्रवाई के दौरान 8165 केस दर्ज, 8606 तस्कर व कारोबारी गिरफ्तार किये गए। जबकि 30,6218 लीटर अवैध शराब बरामद कर 852 शराब भट्टियों सहित 187 वाहन भी बरामद किये गए। एडीजी कानून एवं व्यवस्था आनंद कुमार ने बताया कि इसके साथ ही यूपी में संवेदनशील मतदान केंद्र 4462 और अतिसंवेदनशील 3296 है। यहाँ अतिरिक्त सुरक्षा बल तैनात रहेगा। सीसीटीवी कैमरे, स्टिल कैमरा, वीडियोग्राफी, वेब कास्टिंग की व्यवस्था रहेगी। साथ ही प्रथम चरण में 24 जनपदों में 75 कंपनी पीएसी, 2 प्लाटून तैनात रहेंगे।

दूसरे चरण में 25 जनपदों में 91 कंपनी, तीसरे चरण में 26 जनपदों में 71 कम्पनी पीएसी तैनात रहेगी। मतगणना हेतु सभी जनपदों में 43 कंपनी पीएसी और 2 प्लाटून की व्यवस्था की गई है। इसके साथ ही CAPF जिसमें आरएएफ-8 कंपनी, सीआरपीएफ 22 कंपनी, एसएसबी 6 और आईटीबीपी 4 तैनात रहेगी। उन्होंने बताया कि निकाय चुनाव को लेकर जो भी व्यवस्था बिगाड़ेगा उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जायेगी। साथ ही 2 लाख से अधिक नकदी मिलने पर कोई दस्तावेज ना दिखाने पर रकम जब्त की जाएगी।

Load More Related Articles
Load More By news_admin
Load More In उत्तर प्रदेश-उत्तराखण्ड

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

वाहन चलाते समय इन बातों का ध्यान नहीं तो हर हाल में कटेगा चालान

लखनऊ। नवंबर माह को यातायात माह के रूप में मनाया जाता है। जिससे ट्रैफिक व्यवस्था को सुधारा …