Home राज्य पंजाब-हरियाणा हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने रोहतक-महम-हाँसी नई रेल लाइन के निर्माण कार्यों की शुरूआत की, करूक्षेत्र रेलवे स्‍टेशन का होगा नवीनीकरण

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने रोहतक-महम-हाँसी नई रेल लाइन के निर्माण कार्यों की शुरूआत की, करूक्षेत्र रेलवे स्‍टेशन का होगा नवीनीकरण

26 second read
0
0
56

 

नई दिल्ली। हरियाणा के माननीय मुख्यमंत्री, मनोहर लाल की गरिमामयी उपस्थिति में माननीय रेल राज्यमंत्री राजेन गोहांई ने आज दिनांक 30.11.2017 को कुरूक्षेत्र रेलवे स्टेशन पर आयोजित एक समारोह में रोहतक-महम-हाँसी नई रेल लाइन के निर्माण कार्यों की शुरूआत और करूक्षेत्र रेलवे स्‍टेशन की नवीनीकरण परियोजना की आधारशिला रखी। इसी मौके पर माननीय अतिथियों ने कुरूक्षेत्र स्टेशन से हिसार और हरिद्वार बरास्ता अम्बाला व कुरूक्षेत्र एक नई रेलगाड़ी का शुभारम्भ किया। इस अवसर पर माननीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता तथा अनुसूचित जाति एवं पिछड़ा वर्ग कल्याण राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) कृष्ण कुमार, माननीय संसद सदस्य, (लोकसभा), राजकुमार सैनी, हरियाणा विधानसभा के माननीय विधायकगण सुभाष सुधा और डा0 पवन सैनी विशिष्ट अतिथि थे। समारोह में उत्तर रेलवे के महाप्रबन्धक विश्वेश चौबे, उत्तर रेलवे के मुख्य प्रशासनिक अधिकारी/निर्माण, जगदीप राय, उत्तर रेलवे, दिल्ली मंडल के मंडल रेल प्रबंधक, आर.एन.सिंह तथा अन्य वरिष्ठ रेल अधिकारी भी उपस्थित थे।

उपस्थित जनसमूह को सम्बोधित करते हुए मनोहर लाल ने विश्वास जताया कि रोहतक-महम-हांसी नई रेल लाइन परियोजना राज्य में विकास की एक नई पहल साबित होगी और सम्बद्ध शहरों के विकास में अपना योगदान देगी। इसके अलावा इसके विरासतीय महत्व के मद्देनज़र एक प्रतीक स्टेशन के रूप में कुरूक्षेत्र के नवीनीकरण से इस शहर में आने वाले पर्यटकों को लाभ होगा। उन्होंने रेलवे द्वारा नई रेलगाड़ियां चलाने के प्रयासों की सराहना करते हुए कहा कि यह राज्य में रेलयात्रियों के लिए सुविधाजनक विकल्प होगा। इस अवसर पर बोलते हुए राजेन गोहांई ने कहा कि ये रेलवे की तीव्रता से पूरी होने वाली परियोजनाएं हैं। रेलवे हरिायाणा राज्य में कनेक्टीविटी को बेहतर करके रेलयात्रियों को सुविधा प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है । उत्तर रेलवे के महाप्रबन्धक ने अपने स्वागत भाषण में नई रेल लाइन और कुरूक्षेत्र स्टेशन नवीकरण परियोजनाओं का विस्तृत विवरण देते हुए इन परियोजनाओं को शीघ्रता से पूरा करने की प्रतिबद्धता जताई ।

इन परियोजनाओं की प्रमुख विशेषताएं निम्नानुसार हैं:-

रोहतक-महम-हांसी नई रेल लाइन
रोहतक और हिसार दो रेल मार्गों से जुड़ा है । पहला भिवानी होते हुए 142.56 किलोमीटर, दूसरा जाखल होते हुए 210.60 किलोमीटर का है । रोहतक से हॉंसी बरास्ता महम नया रेल मार्ग निर्मित हो जाने के बाद इन दोनों नगरों के बीच की दूरी 93.19 किलोमीटर घट जाएगी जिससे न केवल इनके बीच की रेल यात्रा सस्ती होगी बल्कि यात्रा समय में भी कमी आएगी । रोहतक से हॉंसी बरास्ता महम नए रेलमार्ग की लंबाई 68.8 किलोमीटर होगी । 680 करोड़ रूपये की अनुमानित लागत वाली इस रेल लाइन को हरियाणा राज्य के साथ समान लागत-हिस्सेदारी-आधार पर बिछाया जाएगा । रोहतक से हिसार बरास्ता हांसी नई रेल लाइन पर चार रेलवे स्टेशन – मोखरा-मोदिना, महम, मुंधल कलां और गढ़ी होंगे । इस रेल परियोजना में 11 बड़े और 182 छोटे पुल, 55 सीमित ऊँचाई वाले सब-वे तथा 5 रोड-अंडर-ब्रिज तथा 2 रोड-ओवर-ब्रिज होंगे । चूंकि यह क्षेत्र राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के निकट है और घनी आबादी वाला है अत: यह रेल लाइन बहुत उपयोगी सिद्ध होगी ।

तीन दिन बाद भी नहीं बुझ सकी कोल्ड स्टोरेज में लगी आग

प्रतीकात्‍मक अग्रभाग के साथ कुरूक्षेत्र स्‍टेशन भवन की सौंदर्यीकरण परियोजना

कुरुक्षेत्र रेलवे स्टेशन उत्तर रेलवे, दिल्ली मंडल के दिल्ली-अंबाला सैक्‍शन पर स्थित है। कुरुक्षेत्र हरियाणा के सबसे प्रमुख शहरों में से एक है। महाभारत के युद्ध की युद्धभूमि के रूप में प्रसिद्ध, कुरुक्षेत्र सौर और चंद्रग्रहण के दिनों में भी धार्मिक आस्‍था का केंद्र रहता है। समूचे भारत से आने वाले लोग यहॉं स्थित पवित्र सरोवर में स्‍नान करते हैं। धार्मिक महत्व का स्‍थान होने के कारण, कुरूक्षेत्र रेलवे स्‍टेशन को आदर्श स्टेशनों की श्रेणी में विकसित करने का निर्णय किया गया है। इसके पुनर्विकास पर आने वाले कुल 10 करोड़ रुपए का व्‍यय पर्यटन मंत्रालय के साथ समान आधार पर वहन किया जाएगा ।

मौजूदा पुराने स्टेशन का निर्माण 1890 में ढलवॉं छतों, पत्थर की टाइलों और जैक आर्क से किया गया था। इमारत की खूबी को ध्‍यान में रखते हुए यह तय किया गया है कि उन्नत यात्री सुविधाओं वाले एक नए स्टेशन भवन का निर्माण किया जाए। नई इमारत के निर्माण की योजना को दो चरणों में तैयार किया गया है। पहले चरण में पोर्च और सर्कुलेटिंग एरिया सहित इमारत के एक मंजिला मध्य-भाग की योजना बनाई गई है। स्टेशन बिल्डिंग के प्रतीकात्‍मक मुखद्वार के साथ सामने और पीछे की ऊंचाई के डिजाइन को कुरुक्षेत्र शहर की विरासत और धार्मिक महत्व से दर्शाने की योजना बनाई गई है ।

यह कार्य दो चरणों में किया जाएगा । पहले चरण में संरचनात्मक परिवर्तन, नए निर्माण कार्य, फुटपाथों, सड़कों का निर्माण, लैंडस्‍केपिंग, पार्कों और रॉकटि का विकास । दूसरे चरण में परिदृश्‍य को बेहतर बनाने के साथ-साथ रेलयात्रियों के लिए दो एस्केलेटर, कैप्सूल लिफ्ट, शौचालय की सुविधा वाले वातानुकूलित और गैर-वातानुकूलित कमरों के प्रावधान और मनोरम दृश्य वाले नया एक्‍जीक्‍यूटिव लाउंज का निर्माण किया जाएगा । दूसरे चरण में स्टेशन पर अतिरिक्त लैंडस्‍केपिंग, फुटपाथों, सड़कों, भित्ति चित्रों का कार्य किया जाएगा । कुरुक्षेत्र रेलवे स्टेशन पर पर्यटन/यात्री सुविधाओं के विकास के संबंध में योजना और ड्राईंग तैयार करने के लिए वास्तुकला सेवा का परामर्श कार्य, ले-आउट और विकास योजना को अनुमोदन देने का कार्य कर लिया गया है ।

हिसार-हरिद्वार-हिसार और बीकानेर-हरिद्वार-बीकानेर नई रेलगाड़ियों का शुभारम्भ

रेलयात्रियों की सुविधा के लिए उत्तर रेलवे नई रेलगाड़ियों का शुभारम्भ कर रही है । ये रेलगाड़ियां 14715/14716 हिसार-हरिद्वार-हिसार एक्सप्रेस (सप्ताह में दो दिन) तथा 14717/14718 बीकानेर-हरिद्वार-बीकानेर (सप्ताह में एक दिन) हैं ।
14715/14716 हिसार-हरिद्वार-हिसार एक्सप्रेस ( सप्ताह में दो दिन)
14716 हरिद्वार-हिसार एक्सप्रेस (सप्ताह में दो दिन) अपनी नियमित सेवा दिनांक 30.11.2017 से शुरू करेगी । यह रेलगाड़ी हरिद्वार से प्रत्येक मंगलवार एवं गुरूवार को हरिद्वार से सांय 04.20 बजे प्रस्थान करके अगले दिन तड़के 02.00 बजे हिसार पहुँचेगी । वापसी दिशा में 14715 हिसार-हरिद्वार एक्सप्रेस ( सप्ताह में दो दिन) एक्सप्रेस दिनांक 02.12.2017 से अपनी नियमित सेवा शुरू करेगी । यह रेलगाड़ी हिसार से प्रत्येक गुरूवार और शनिवार को तड़के 04.30 बजे प्रस्थान करके उसी दिन सांय 03.20 बजे हरिद्वार पहुँचेगी ।

दो वातानुकूलित 3 टीयर, पाँच द्वितीय श्रेणी शयनयान, पाँच जनरल द्वितीय श्रेणी और सामानयान वाली यह रेलगाडी मार्ग में भिवानी, रोहतक, पानीपत, करनाल, कुरूक्षेत्र, अम्बाला छावनी, सहारनपुर और रूड़की स्टेशनों पर दोनों दिशाओं में ठहरेगी ।
14717/14718 बीकानेर-हरिद्वार-बीकानेर (सप्ताह में एक दिन)
14718 बीकानेर-हरिद्वार-बीकानेर (सप्ताह में एक दिन) दिनांक 02.12.2017 से अपनी नियमित सेवा प्रारम्भ करेगी । यह रेलगाड़ी हरिद्वार से प्रत्येक शनिवार को सांय 04.20 बजे प्रस्थान करके अगले सुबह 07.55 बजे बीकानेर पहुँचेगी । वापसी दिशा में 14717 बीकानेर-हरिद्वार (सप्ताह में एक दिन) एक्सप्रेस दिनांक 04.12.2017 से अपने नियमित सेवा प्रारम्भ करेगी । यह रेलगाड़ी बीकानेर से प्रत्येक सोमवार को पूर्वाहन 11.50 बजे प्रस्थान करके अगले दिन सांय 03.20 बजे हरिद्वार पहुँचेगी।

दो वातानुकूलित 3 टीयर, पाँच द्वितीय श्रेणी शयनयान, पाँच जनरल द्वितीय श्रेणी और सामानयान वाली यह रेलगाडी मार्ग में श्रीडॅूंगरगढ, रतनगढ़, चुरू, सादुलपुर, हिसार, भिवानी, रोहतक, पानीपत, करनाल, कुरूक्षेत्र, अम्बाला छावनी, सहारनपुर और रूड़की स्टेशनों पर दोनों दिशाओं में ठहरेगी।

 

Load More Related Articles
Load More By Amar Bharti
Load More In पंजाब-हरियाणा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

देवरिया पुलिस की दबंगई, मामूली कहासुनी पर पत्रकार कैम्पस में घुसकर पत्रकार की धुनाई

सुनील शर्मा, देवरिया। उत्तर प्रदेश सरकार में पुलिस की दबंगई जारी है। यूपी में नगर निकाय चु…