Home मनोरंजन बॉलीवुड Mohammed Rafi Birthday Anniversary: गूगल ने डूडल के जरिये किया याद

Mohammed Rafi Birthday Anniversary: गूगल ने डूडल के जरिये किया याद

0 second read
0
0
80

नई दिल्ली। मोहम्मद रफी यानी आवाज की दुनिया के बेताज बादशाह का आज 93वां जन्मदिन है। मोहम्मद रफी को उनके 93वें जन्मदिन के लिए गूगल ने डूडल बनाकर उनको याद किया। गूगल ने अपने डूडल में मोहम्मद रफी एक तस्वीर भी लगाई है। तस्वीर में मोहम्मद रफी को गाना रिकॉर्ड करते हुए दिखाया गया है। मोहम्मद रफी का जन्म 24 दिसंबर 1924 को अमृतसर के पास कोटला में हुआ था।

मोहम्मद रफी अपने सभी छह भाईयों में सबसे छोटे थे। मोहम्मद रफी को गाने की प्रेरणा एक फकीर से मिली। दरअसल उनके मोहल्ले से एक फकीर रोज गाना गाते हुए गुजरता था। तब उस समय रफी फकीर की आवाज सुनकर उनके पीछे-पीछे चलने लगते थे। बाद में रफी अपने पिता के साथ लाहौर चले गए। लाहौर में रफी के पिता ने एक नाई की दुकान खोल दी।

मोहम्मद रफी को बंबई तक पहुंचाने में उनके बड़े भाई के दोस्त अब्दुल हमीद का बड़ा हाथ बताया जाता है। उन्होंने ही रफी की काबिलियत को पहचाना और उनके परिवार को समझाया कि वह रफी को बंबई जाने दें। फिर मुम्बई से ही रफी की जिंदगी के सफर की शुरुआत हुई। बाद में रफी आवाज के जादूगर बने।

आवाज के इस जादूगर को पहली बार स्टेज पर परफॉम करने का मौका भी बड़े ही नाटकीय ढंग से मिला था। दरअसल तब के मशहूर गायक केएल सहगल के शो में अचानक लाइट चली गई। इसपर लोग शोर मचाने लगे। विचार किया जाने लगा कि लोगों को शांत कैसे कराया जाए। तब रफी के बड़े भाई प्रोग्राम ऑर्गनाइजर के पास गए कि उनके छोटे भाई को गाने दिया जाए। वह जनता को शांत करा लेगा। इससे उसे गाने का मौका भी मिल जाएगा। रफी के बड़े भाई की बात से आर्गनाइजर सहमत हो गए।

यही से शुरु हुई रफी की कहानी और देखते ही देखते रफी बन गए आवाज की दुनिया के बादशाह। कहा जाता है ‘बाबुल की दुआएं लेती जा’ गीत को गाते वक्‍त रफी कई बार रोए। इसके पीछे वजह थी कि इस गाने की रिकॉर्डिंग से एक दिन पहले उनकी बेटी की सगाई हुई थी। जिसके चलते रफी साहब काफी भावुक थे। इस गीत के लिए उन्‍हें ‘नेशनल अवॉर्ड’ मिला। रफी साहब को 6 फिल्मफेयर और 1 नेशनल अवार्ड मिला।

Load More Related Articles
Load More By news_admin
Load More In बॉलीवुड

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

देश में बोली जाने वाली भाषाओँ को जोड़ने का प्रयास करें – सीएम

लखनऊ। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को कहा कि देश की संस्कृति, परंपरा और …