Home राज्य उत्तर प्रदेश-उत्तराखण्ड वाराणसी में गिरा फ्लाईओवर का पिलर, 16 की मौत दर्जनों लोग घायल

वाराणसी में गिरा फ्लाईओवर का पिलर, 16 की मौत दर्जनों लोग घायल

2 min read
0
0
32

वाराणसी के कैंट एरिया में निर्माणाधीन पुल गिरने से बड़ा हादसा हो गया। यहां बन रहे फ्लाईओवर का एक हिस्सा अचानकर गिर गया और उसके नीचे बड़ी संख्या में लोग और गाड़ियां दब गईं। हादसे में 16 लोगों की मौत हो गई है, जबकि कई लोगों के मलबे में दबे होने की सूचना है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हादसे पर दुख जताते हुए अधिकारियों से फौरन मौके पर पहुंचकर कार्रवाई करने को कहा है।

कैंट क्षेत्र में फ्लाईओवर का निर्माण लंबे समय से चल रहा है। मंगलवार शाम अचानकर इस पुल का एक हिस्सा टूटकर नीचे आ गिरा। इसके नीचे खड़ी गाड़ियों समेत कई लोग पुल के नीचे दब गए। मलबे के नीच कारें, ऑटो और दोपहिया गाड़ियों समेत कई वाहन दबे हैं जिनमें लोग हो सकते हैं।

लोकसभा चुनाव 2014 में वाराणसी से जीत हासिल करके सरकार बनाने के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने काशी को क्योटो बनाने का वादा किया। इस वादे के तहत पीएम ने वाराणसी को 21वीं सदी के लिए मॉर्डन स्मार्ट सिटी बनाने की कवायद करते हुए शहर को जापान की धार्मिक राजधानी क्योटो की तर्ज पर विकसित करने का खाका तैयार किया गया था।

दुर्घटनाग्रस्‍त फ्लाईओवर पर एक नजर
1 अक्टूबर 2015 में हुआ था चौकाघाट-लहरतारा फ्लाईओवर के विस्तारीकरण का शिलान्यास
2356 मीटर होना है फ्लाईओवर का निर्माण
30 महीने में पूरा होना था काम
108 करोड़ है प्रोजेक्ट की लागत
63 पिलर बनने हैं फ्लाईओवर विस्तारीकरण के तहत
45 पिलर अभी तक हो चुके हैं तैयार
30 जून तक पूरा करना था प्रोजेक्ट समयावधि बढऩे के बाद, सेतु निर्माण निगम के गाजीपुर इकाई का रही थी काम।

Load More Related Articles
Load More By Amar Bharti
Load More In उत्तर प्रदेश-उत्तराखण्ड

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

विश्‍व बैंक ने पाक को दिया करारा झटका, ठुकराई किशनगंगा डैम पर भारत के खिलाफ अपील

19 सितंबर 1960 को विश्‍व बैंक की मध्‍यस्‍था से भारत और पाकिस्‍तान के बीच सिंधु नदी के पानी…