Home देश-दुनिया अमेरिका नॉर्थ कोरिया पर प्रतिबंध लगे रहेंगे: डॉनल्ड ट्रंप

नॉर्थ कोरिया पर प्रतिबंध लगे रहेंगे: डॉनल्ड ट्रंप

2 min read
0
1
41

सिंगापुर।  उत्तर कोरिया के शासक किम जोंग-उनसे मुलाकात और दस्तावेज पर साइन के बाद अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंपने कहा है कि कोरियाई देश मेजर मिसाइल टेस्टिंग साइट बंद करेगा। अमेरिकी राष्ट्रपति ने इसके बारे में ज्यादा जानकारी नहीं दी। ट्रंप ने दोहराया कि किम ने पूर्ण नाभिकीय निरस्त्रीकरण का वादा किया है और दोनों नेताओं को एक दूसरे पर भरोसा है। हालांकि ट्रंप ने यह भी कहा कि नॉर्थ कोरिया पर प्रतिबंध जारी रहेंगे। साथ ही उन्होंने यह भी साफ किया कि कोरियाई प्रायद्वीप में तैनात अमेरिकी सैनिकों को अभी वापस नहीं बुलाया जाएगा।

हालांकि ट्रंप ने कहा कि इस बातचीत के बाद अब अमेरिका कोरियाई प्रायद्वीप में सैन्य अभ्यास नहीं करेगा। ट्रंप ने नॉर्थ कोरिया में अमेरिकी स्टूडेंट ओट्टो वार्मबायर के संदर्भ में नॉर्थ कोरिया द्वारा मानवाधिकारों के उल्लंघन पर भी बात की। ट्रंप ने कहा कि ओट्टो की मौत व्यर्थ नहीं गई। ओट्टो के बिना यह सब नहीं हो पाता। उन्होंने युद्ध बंदियों और माननाधिकार के सवाल पर कहा कि किम के साथ ह्यूमन राइट्स को लेकर भी बात हुई है। ट्रंप ने कहा कि जबतक हम इस बात के लिए निश्चिंत नहीं हो जाते कि नॉर्थ कोरिया के नाभिकीय हथियार खत्म नहीं हो गए हैं, प्रतिबंध जारी रहेंगे। ट्रंप से जब इसकी टाइमलाइन के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि इसमें लंबा समय लगेगा। किम के साथ समिट समाप्त होने और साझा बयान जारी होने के बाद ट्रंप एक बार फिर मीडिया से मुखातिब थे। इस बार ट्रंप ने अकेले ही संबोधन किया। आपको बता दें कि किम और ट्रंप की ऐतिहासिक मुलाकात के बाद नॉर्थ कोरिया ने पूर्ण नाभिकीय निरस्त्रीकरण का वादा किया है। इसके बदले में अमेरिका ने भी इस कोरियाई देश की सुरक्षा की जिम्मेदारी ली है।

अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने कहा है कि किम के साथ उनकी बातचीत में निरस्त्रीकरण के सत्यापन को लेकर भी चर्चा हुई। अमेरिकी राष्ट्रपति ने बताया कि नॉर्थ कोरिया के पूर्ण निरस्त्रीकरण के प्रयासों के सत्यापन के लिए एक टीम होगी जिसमें अमेरिकी और अंतरराष्ट्रीय अधिकारी शामिल होंगे। ट्रंप ने कहा कि दस्तावेज पर साइन के बाद किम ने मौखिक रूप से नॉर्थ कोरिया के मेजर मिसाइल इंजन टेस्टिंग साइट को ध्वस्त करने पर सहमति जताई।

कोरियाई युद्ध का जल्द होगा अंत
ट्रंप ने कहा कि अपने नागरिकों के सुनहरे भविष्य के लिए किम ने बोल्ड स्टेप लिया है जिसके लिए वह उनका शुक्रिया अदा करते हैं। ट्रंप ने कहा कि करीब 70 साल पहले खूनी संघर्ष (कोरियाई युद्ध) हुआ था। ट्रंप ने हजारों अमेरिकी सैनिकों की शहादतों को याद करते हुए कहा कि अब इस युद्ध का खात्मा होगा। ट्रंप ने कहा कि वह कोरियाई प्रायद्वीप से अमेरिकी सैनिकों को घर लाना चाहते हैं लेकिन अभी इसपर बात नहीं हुई लेकिन हम युद्ध का खेल बंद करेंगे। ट्रंप ने कहा कि उत्तर कोरिया का उज्जवल भविष्य दिख रहा है। उम्मीद है कि किम अपने वादे पर बने रहेंगे। हम जल्द ही शांति स्थापित होने की उम्मीद कर सकते हैं। कोई भी युद्ध कर सकता है लेकिन शांति स्थापित करने के लिए साहस चाहिए।राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा कि उत्तर कोरिया और अमेरिका के बीच अगले हफ्ते भी बातचीत होगी।

Load More Related Articles
Load More By Amar Bharti
Load More In अमेरिका

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

शाहरूख ने दिया इरफान का बुरे व्क्त में साथ, की ये बड़ी मदद

अमर भारती: लंबे समय से न्यरोएंडोक्राइन कैंसर से जूझ रहे इरफान खान इलाज के लिए इन दिनों लंद…